fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

अशोक गहलोत: अगर दोबारा बीजेपी सत्ता में आई तो आगे चुनाव होंगे या नहीं, यह निश्चित नहीं है

ashok-gehlot-if-bjp-comes-in-power-again-whether-election-will-be-held-again-or-not-it-is-not-certain
(Image Credits: Moneycontrol)

लोकसभा चुनाव आते ही राजनीती में हलचल का माहौल बन गया है। भाजपा सरकार पर चुनाव को लेकर लगातार आरोप लगते आ रहे है। हाल ही में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पीएम नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला है। प्रधानमंत्री मोदी को लोकतंत्र में विश्वास नहीं रखने वाला बताते हुए गहलोत ने कहा कि अगर दोबारा बीजेपी सत्ता में आई तो आगे चुनाव होंगे या नहीं, यह निश्चित नहीं है।

Advertisement

गहलोत ने आरोप लगाते हुए कहा कि अगर पीएम मोदी अपनी पार्टी के साथ 2019 लोकसभा चुनाव में दोबारा जीतकर आते हैं तो फिर आगे चुनाव होने की कोई गारंटी नहीं होगी। सीएम ने कहा कि वह ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि पीएम मोदी और आरएसएस का लोकतंत्र में कोई विश्वास नहीं है। भारत में मोदी सरकार की नीतियों को देखते हुए यह आरोप लगते आये है की मोदी सरकार भारत में लोकतंत्र को ख़तम करने का काम करने में लगी है।

राजस्थान के श्रीडूंगरगढ़ में चुनावी जनसभा के दौरान ही गहलोत ने पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी और आरएसएस पर सीधा हमला बोला। गहलोत ने कहा, ‘मैं बड़ी गंभीरता से कह रहा हूं कि यदि मोदी अपनी पार्टी के साथ वापस चुनाव जीत कर आ गए तो आप यह बात दिमाग में रखें कि आगे चुनाव होने की कोई गारंटी नहीं होगी।’

इस दौरान गहलोत ने यह भी आरोप लगाया कि बीजेपी और आरएसएस की सोच अपने विरोध को सहन नहीं कर पाती है। गहलोत ने कहा, ‘मैं समझता हूं कि बीजेपी और आरएसएस के लोग अपने विरोध को सहन नहीं कर पाते। गांधी ने कहा था कि लोकतंत्र में विपक्ष क्या कहता है उसका सम्मान होना चाहिए। अपना कोई विरोधी है तो उसकी बात का भी सम्मान होना चाहिए। पर, पीएम मोदी, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और आरएसएस के लोग विरोध सहन कर ही नहीं सकते क्योंकि इनका लोकतंत्र में यकीन ही नहीं है। ये लोकतंत्र का मुखौटा पहन कर राजनीति में उतरे हुए लोग हैं। इनके पास जनता के लिए कोई नीति और कार्यक्रम नहीं है जो कांग्रेस का मुकाबला कर सके।’

मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत ने राम मंदिर को लेकर भी बीजेपी पर निशाना साधा है उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी को खाली चुनाव में ही राम मंदिर याद आता है। गहलोत ने कहा कि कांग्रेस ने 70 साल तक लोकतंत्र को सहेज कर रखा है। सीएम ने दो टूक कहा कि अगर भारत में लोकतंत्र नहीं होता तो आप (मोदी) कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बन सकते थे।


वही दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी के सांसद साक्षी महारज के एक बयान से भी हलचल मची हुई है बीजेपी सांसद ने कहा कि इस लोकसभा चुनाव के बाद 2024 में चुनाव नहीं होगा क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सारे विश्व के नेता है. साक्षी महाराज ने गुरुवार को उन्नाव में कहा, ‘मोदी नाम की सुनामी है, देश में जागृति आई है. मुझे लगता है कि इस चुनाव के बाद 2024 में चुनाव नहीं होगा, केवल यही चुनाव है. इस देश के लिए प्रत्याशियों को जितवाने का काम करेंगे.’

देखा जाय तोह बीजेपी के सांसद ने ही एक सन्देश दे दिया है की इस लोकसभा चुनाव में अगर बीजेपी जीतेगी तो वह ऐसा माहौल तैयार कर देगी की आने वाले सालो में चुनाव उनके कंट्रोल में हो जायेगा। भारतीय जनता पार्टी का मकसद साफ़ होता नज़र आ रहा है। बीजेपी सांसद के बयान के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा, ”बीजेपी ने अपना मक़सद साफ़ कर दिया. मैं तो पहले से ही कह रहा हूं की मोदी और अमित शाह की जोड़ी दोबारा आ गयी तो वे संविधान बदल देंगे और चुनाव करवाना ही बंद कर देंगे. हिटलर ने भी ऐसा ही किया था.”

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved