fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

BJP राज्यसभा में जीत के लिए कर रही इन रास्तो का इस्तेमाल, जानिए आखिर क्या है नई चाल

BJP-Uses-these-ways-to-win-the-Rajya-Sabha,-know-what-is-the-new-move
(image credits: Moneycontrol)

बीजेपी ने लोकसभा चुनाव में बड़ी जीत हासिल तो कर ली परन्तु अब वह राज्यसभा में भी पूर्ण बहुमत से जीत हासिल करनी चाहती है, और भाजपा इस जीत के लिए कुछ भी कर सकती है। बीजेपी को राज्यसभा पूर्ण बहुमत हासिल करने के लिए सभी पार्टियों को अपने साथ मिलाना होगा जिससे उसे बहुमत हासिल होगा। बीजेपी राज्यसभा में बहुमत हासिल करने के लिए सभी रास्तो का इस्तेमाल कर रही है चाहे वह गलत हो या सही।

Advertisement

बहुमत हासिल करने के लिए बीजेपी ने पहले TDP और अब इंडियन नेशनल लोक दल यानि INLD के सांसदो को पार्टी में शामिल करवा लिया है। इस तरह बीजेपी की संख्या सदन में सबसे ज़्यादा 75 और NDA की 110 पहुंच गई है, हालांकि बहुमत से NDA अब भी दूर है। उसे उम्मीद है कि कुछ गैर नियुक्त दलों जैसे TRS , BJD और YSR कांग्रेस की मदद से वह उन तमाम बिलों को पारित करा लेगी जो लंबे समय से अटके हुए हैं। परन्तु सरकार का इरादा इस सत्र में तीन तलाक बिल को पारित कराने का नहीं है। तीन तलाक पर पक्ष विपक्ष में तीन तलाक को लेकर काफी हो हल्ला है परन्तु सरकार खुद भी इस बिल को अभी पारित नहीं कराना चाहती।

INLD के राज्यसभा के इकलौते सांसद रामकुमार कश्यप का बुधवार को बीजेपी के साथ जुड़ने की खबरे सामने आई । उन्हें बीजेपी संसदीय दल में भी शामिल कर लिया गया है। इस तरह बीजेपी की संख्या 75 पहुंच गई. इससे पहले TDP के चार सांसद भी बीजेपी में शामिल हो गए थे। अगर बीजेपी के सहयोगी दलों को मिलाएं तो NDA राज्यसभा में 110 के आंकड़े तक पहुंच गया है. हालांकि उसे TRS के 6, BJD के 5, YRS के 2 और नगा पीपुल्स फ्रंट के एक सांसद के समर्थन का भरोसा है। यह संख्या 14 है और इसे मिला कर NDA को राज्यसभा में बहुमत मिल जाता है।

राज्यसभा में बहुमत न होने के कारण पिछले पांच साल में NDA कई महत्वपूर्ण बिल राज्यसभा में पारित नहीं करवा सका था। यहीं नहीं, ऐसे कई मौके आए जब विपक्ष ने अपने संख्या बल के कारण NDA को झुकने पर मजबूर किया। राष्ट्रपति के अभिभाषण में संशोधन तक विपक्ष ने करवाया। बीजेपी अब ऐसे हालात दोबारा नहीं बनने देना चाहती है। इसलिए वह अपनी जीत के वह सभी रास्ते अपना रही है जिससे उसे पूर्ण बहुमत मिल सके।

बीजेपी अपने पुराने फसे बिल को पारित करने की कोशिश में भी लगी है। देखना यह है की राज्यसभा में बीजेपी को जीत मिलती है या हार। लोकसभा चुनाव में जीत हासिल करने पर कई सवाल उठाये गए थे जिसमे EVM अहम् मुद्दा था।


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved