fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

भाजपा दलित सम्मलेन में दलितों को मायावती के खिलाफ भड़का रही है भाजपा, जानिए क्या कहा प्रदेश अध्यक्ष ने

BJP dalit Sammelan

भाजपा ने उत्तर प्रदेश में पिछड़ी जातियों के सम्मेलन की शुरुवात कर दी है साथ ही भाजपा ने दलित सम्मलेन की शुरुवात भी बुधवार को कर दी है। इस सम्मलेन के पहले ही दिन जातियों के प्रतिनिधियों को भाजपा ने आमंत्रित किया। लखनऊ के पीडब्ल्यूडी विश्वेसरैया हाल में हुए इस कार्यक्रम को प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे ने संबोधित किया। भाजपा ने इस सम्मलेन में जमकर अपनी बड़ाई करी और पूर्व मुख्यमंत्रियों बसपा सुप्रीमो मायावती और अखिलेश यादव पर जमकर निशाना साधा।

Advertisement

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने इस सम्मलेन में फिर कई झूठो वादों के साथ पूर्व सरकार की नीतियों को निशाना बनाया। उन्होंने कहा कि राजनीतिक ऊंचाई पर आने के बाद मायावती राजशाही तरीके से रहती है , कार्यकर्ता जमीन पर बैठता है, और खुद ऊंचे पर बैठती है। काशीराम के सपने को दौलत के नशे में मायावती ने चूर कर दिया। भाजपा अध्यक्ष ने दलितों को बसपा और मायावती के खिलाफ भड़काने की कोई कसर नहीं छोड़ी। अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे ने अपने मौजूदा सरकार की कुनीतियों को छुपा पर पूर्व सरकार की नीतियों पर सवाल उठाये।

प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे ने मीराबाई गेस्ट हाउस कांड का जिक्र किया और बताया कैसे ब्रम्हदत्त द्विवेदी जी ने जाकर मायावती की मदद की थी। दो बार मायावती को समर्थन दिए जाने का जिक्र करते हुए कहा, की तीसरी बार हमारी सत्ता के समर्थन में एक रैली की और एक हमारे ही पदाधिकारी ने कहा इस महिला को आगे बढ़ना है लेकिन अपनी लालच में इन्होंने दलितों के सपने को खत्म कर दिया। भाजपा ने अपनी योगी सरकार के अंतर्गत जो रोज दलितों पर अत्याचार के मामले सामने आ रहे है उनपर भाजपा सरकार ने कोई पक्ष नहीं रखा।

वही भाजपा ने सरदार पटेल की मूर्ति का संज्ञान हुए कहा की भाजपा ने सरकार पटेल को याद करते हुए मूर्ति बनाई। बीजेपी सरकार ने हर जाति हर धर्म का ख्याल रखा है। वह बोले,’ आज जाटव समाज के लोग इस कार्यक्रम में आये है ।इस कार्यक्रम के बाद अभी 6 जातियों के लोगो के लिये और कार्यक्रम होगा।

दलितों को लुभाने के लिए व दलित वोट बैंक अपने तरफ करने के लिए भाजपा किसी भी हद तक जाने की कोशिश निरंतर करती रहेगी। बीजेपी कि ये रणनीति कितनी कामयाब होगी ये तो वक्त ही बताएगा। दलितों का यह सम्मेलन 30 नवंबर तक चलेगा। इसमें पासी समाज., धनुक, कोरी और अन्य उप जतियों का भी सम्मेलन होगा।


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved