fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

भाजपा मंत्री ने मुसलमानो को लेकर दिया विवादित बयान, हो सकता है बीजेपी का सूपड़ा साफ़ ?

BJP-minister-disputed-statement-on-Muslims,-problem-may-raise-for-BJP

बीजेपी के केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह यूँ तो अपने तीखे बयानों से विपक्षियों पर हमला करते है। कई ऐसे बयान दिए है जो विवादित होने के साथ साथ सुर्ख़ियों में भी बने रहते है। इस बार भी एक आयोजित कार्यक्रम में गिरिराज सिंह ने मुसलमानो को लेकर विवादित बयान दिया है। गिरीराज सिंह ने सारी मर्यादा लांघते हुए वो शब्द बोल दिए जो उनकी पार्टी को चुनाव समय में बाहर का रास्ता दिखा सकती है।

Advertisement

इस बार गिरिराज सिंह ने भरे मंच से मुस्लिम समुदाय के लोगों के लोगों को चेतावनी दे डाली। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगर कब्र के लिए तीन हाथ जगह चाहिए तो इस देश में भारत माता के जयकारों के साथ वंदेमातरम गाना होगा। केंद्रीय मंत्री ने जब यह बात कही तो उस समय मंच पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद थे। आपको बता दें कि गिरिराज सिंह बिहार की बेगूसराय लोकसभा सीट से एनडीए के उम्मीदवार हैं।

सभा को सम्बोधित करते करते वह इतना बोल गए जिसकी कोई हद नहीं। अक्सर मुसलमानो के साथ रहने वाली बीजेपी पार्टी में ही ऐसे लोग शामिल हे जो मुस्लिम समुदाय को देश से बाहर करना चाहते है। इस दौरान गिरिराज सिंह ने मुस्लिम समुदाय के लिए कहा कि अगर आपने ऐसा नहीं किया तो देश तुम्हें कभी माफ नहीं करेगा। आपको बता दें कि गिरिराज सिंह बुधवार को पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के कार्यक्रम में मौजूद थे। गिरिराज ने अपने भाषण में कहा कि कुछ लोग बिहार की धरती को खून से लाल करना चाहते हैं। ऐसे लोग राज्य में सांप्रदायिक दंगे फैलाने चाहते हैं। लेकिन जब तक भाजपा की सरकार है तब तक बेगूसराय की धरती पर वो ऐसे लोगों के मंसूबे कामयाब नहीं होने देंगे।

इसके बाद गिरिराज ने दरभंगा सीट से आरजेडी उम्मीदवार अब्दुल बारी सिद्दिकी का जिक्र करते हुए कहा कि कुछ लोग कहते हैं कि वो वंदे मातरम नहीं बोलेंगे। उन्होंने कहा कि देखने में आया है कि बेगूसराय में कुछ लोग बड़े भाई का कुर्ता और छोटे भाई का पायजामा पहनकर घूम रहे हैं, लेकिन ऐसे लोगों से गिरिराज कहना चाहते हैं कि तीन हाथ जगह चाहने वालों बंदे मातरम न बोलने पर देश कभी माफ नहीं करेगा।

जुमलों को सरकार कहलाने वाली मोदी सरकार साल भर मुस्लिमो के हक़ में बोलती रही परन्तु चुनाव समय आते ही मुसलमानो के खिलाफ बोला जा रहा है। साफ़ तौर पर मोदी भी साल भर मुसलमानो को भाई बहनो का दर्जा देते रहे वहीं उनके पार्टी में मुलमानो को लेकर विवादित बयान देने वालो के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया। आखिर ऐसा क्यों है की अपनी ही पार्टी के खिलाफ देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी कोई कड़ा कदम नहीं उठाते। अगर यही बयान विपक्षी पार्टियों ने दिया होता तो शायद उसके नाम का मोर्चा निकाला जाता ओर उससे माफ़ी की मांग की जाती परन्तु ऐसा बीजेपी कि और से कुछ नहीं है।


बयान सुन रहे अमित शाह ने भी उनको लेकर कुछ नहीं कहा। देखना यह है की अब उनके इस बयान पर क्या कदम उठती है बीजेपी सरकार।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved