fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

भाजपा मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बाबरी मस्जिद को बताया गुलामी का प्रतीक

BJP-minister-Ravi-Shankar-Prasad-said-Babri-Masjid,-symbol-of-slavery
(Image Credits: moneycontrol)

राम मंदिर का मुद्दा अभी तक गरमाया हुआ है, और इस मुद्दे को काफी हवा भी दी जा रही है। इसी विषय पर कानून मंत्री रविशकंकर प्रसाद ने कहा कि बाबरी मस्जिद गुलामी का प्रतीक थी जिसके जरिए हिन्दुओं को नीचा दिखाया गया था।

Advertisement

रविशंकर प्रसाद ने न्यूज़ 18 इंडिया के कार्यक्रम ‘चौपाल में कहा, “कल को कोई जामा मस्जिद गिराने की बात करेगा तो मैं मुसलमानों का साथ दूंगा क्योंकि वो उनकी आस्था का विषय है।” उन्होंने दावा किया कि देश के ज्यादातर हिंदू चाहते हैं कि अयोध्या में राम मंदिर बने लेकिन कुछ लोग अड़ंगा डाल रहे हैं। रविशंकर प्रसाद ने कहा कि विधानसभा चुनावों के नतीजों को लेकर हम आत्ममंथन कर रहे हैं और जो भी गलतियां हुई हैं उन्हें सुधारा जाएगा।

उन्होंने आगे कहा, “छत्तीसगढ़ हम हारे हैं लेकिन मध्यप्रदेश में हमें सिर्फ 1800 वोट और मिलते तो शायद तस्वीर कुछ और होती, राजस्थान में भी कुछ ऐसी ही स्थिति है। हम लोकतंत्र में जनता के फैसले का सम्मान करते हैं, लेकिन ये कांग्रेस की जीत नहीं है।”

रविशंकर प्रसाद ने कहा भारत की राजनीति में कांग्रेस भाषा के एक निचले स्तर तक पहुंच चुकी है, जनता 70 वर्षों में कितना आराम से सोयी है कांग्रेस को इसका जवाब देना चाहिए। उन्होनें कहा कि, “हमारी सरकार का मानना है कि किसानों की आय बढ़नी चाहिए तो कर्ज माफी की जरुरत ही नहीं पड़ेगी।”

राहुलगांधी के बारे में रविशंकर ने कहा कि वह अपनी पार्टी के अध्यक्ष खुद की क्षमता से नहीं बल्कि विरासत से बने हैं। उन्होनें राहुल गाँधी को अपने पद की मर्यादा का ध्यान रखते हुए भाषा की मर्यादा रखने की सलाह दी है। उन्होनें कहा कि राहुलगांधी अभी सिर्फ क्वार्टरफईनल जीतें हैं सेमीफइनल और फाइनल अभी बाकी है।


राम मंदिर के मुद्दे के ऊपर रवि शंकर ने कहा, “मैं अखाड़े का वकील भी रहा हूं और इलाहाबाद हाईकोर्ट ने भी राम मंदिर जन्मस्थान को हिन्दुओं को ही दिया था। उस फैसले के बाद भी मैंने मुसलमानों से कहा था कि राम मंदिर बनने दीजिए, लेकिन उन्होंने नहीं माना।”

रविशंकर प्रसाद ने उच्चतम न्यायालय से राम मदिर निर्माण के बारे में अपील की है कि इस पर जल्द ही सुनवाई होनी चाहिए। मंदिर निर्माण के लिए काफी सबूत हैं, आर्क्योलोजिकल सर्वे की खुदाई में भी सातवीं शताब्दी का मंदिर निकला था जिसका गर्भगृह ठीक रामलला के नीचे है।

राफेल के मुद्दे पर भी रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा, “कांग्रेस गैरजिम्मेदार है, कीमत बताने पर चीन-पाकिस्तान को पता चल जाएगा कि विमान में क्या-क्या हथियार हैं।”

राफेल के साथ साथ रविशंकर प्रसाद ने सीएजी के मुद्दे पर कहा है कि, “सुप्रीम कोर्ट को हमने ये बताया था कि कैग कि क्या प्रक्रिया होती है उन्होंने गलती से मान लिया कि ये हो गई है। हमने ये देखकर गलती सुधारने के लिए अपील की है। हमें गर्व है कि हमने देश की वायु सेना को राफेल विमान का तोहफा दिया।”

एनडीए में बिखराव के सवाल पर भी उन्होनें कहा,“हमारी साथी पार्टियां समझदार हैं और उनकी जो भी दिक्कतें हैं वो दूर की जाएंगी।”उपेन्द्र कुशवाहा के बारे में उन्होनें कहा कि उन्हें साथ में रहना चाहिए था, लेकिन उनकी खुद की ही पार्टी अब बिखरने के कगार पर खड़ी है। नीतीश कुमार के बारे में उन्होनें कुछ इस प्रकार कहा, “वह ईमानदार आदमी हैं और इसलिए वह लालू प्रसाद यादव को छोड़कर हमारे साथ आ गए, उनकी इस बात का सम्मान किया जाना चाहिए।”

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved