fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

भाजपा सांसद महेश शर्मा ने महिलाओं को लेकर दिया विवादित बयान

(Image Credits: BoltaHindustan.in)

राहुल गाँधी के संसद में प्रधान मंत्री मोदी को गले लगाने और आँख मारने के चलते काफी ट्रोल किया गया था। कई नेताओं ने उनका मज़ाक बनाया। यहाँ तक की नरेंद्र मोदी ने भी राहुल गाँधी का मज़ाक उड़ाया था. देखते ही देखते राहुल गाँधी का वडियो ट्विटर पर छा गया था।

Advertisement

अब उसी बात को आगे बढ़ाते हुए केंद्रीय राज्य मंत्री और उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर से भाजपा सांसद महेश शर्मा का एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमे वह कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को ‘पप्पी’ कहते हुए नजर आ रहे हैं। लोकसभा चुनाव प्रचार के चलते शनिवार 16 मार्च, 2019 को भाजपा सांसद बुलंदशहर जिले के करीब सिकंदराबाद में एक चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे थे। अपने भाषण के दौरान उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पप्पू तक कह डाला।

महेश शर्मा ने बातो ही बातो में राहुल गांधी की उस हरकत की बात कह डाली जो उन्होंने संसद में की थी। केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा वायरल वीडियो में कहते नजर आ रहे है की , ‘मैं संसद में बैठा था। जिस तरह उन्होंने आंख मारी। मैं भी फिदा हो गया। अब पप्पू कहता है कि वो प्रधानमंत्री बनना चाहता है। तो अब मायावती, अखिलेश यादव और अब पप्पू के पप्पी भी साथ आ गए। क्या प्रियंका पहले राष्ट्र की बेटी नहीं थीं। कांग्रेस की बेटी नहीं थीं।’ बता दें कि शर्मा वीडियो में यह बातें कहते नजर आ रहे हैं।

वैसे तो भाजपाई कभी किसी की बुराई करते नहीं थकते। यहाँ तक की अपनी मर्यादा पार कर अपशब्द का भी प्रयोग कर देते है। परन्तु इस वायरल वीडियो में केंद्रीय मंत्री ने प्रियंका गाँधी ओर निशाना साधा है और उन्हें पप्पू की पप्पी कह डाला। देखा जाए तो यह एक महिला का अपमान है। चुनावों में आरोप प्रत्यारोप तो एक रिवाज है परन्तु महिला का अपमान क्यों।

हमेशा से विवादित बयान देने भाजपाई के लोगो ने दुसरो का सम्मान करना भी छोड़ दिया है। वीडियो में उन्होंने आगे कहा कि इसमें क्या नई चीज जो है जो वो कर रही होंगी? क्या इससे पहले वो सोनिया गांधी की बेटी नहीं थीं। पहले नेहरू, फिर राजीव, फिर संजय, फिर राहुल और फिर प्रियंका। अभी कुछ और गांधीवादी हो सकते हैं। सांसद के इस विवादित बयान के बाद जब उनसे बात करनी चाही तो उन्होंने कहा कि वो बात नहीं कर सकते क्योंकि वह एक शोक सभा में थे।


केंद्रीय मंत्री अपने बुरे बर्ताव और विवादित बयानों के लिए पहले भी सुर्ख़ियों में आ चुके है। हाल के दिनों में उन्होंने भगवान को बेवकूफ तक कह डाला था। तब सामने आए वीडियो में संस्कृति और पर्यटन और नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री शर्मा ने कहा कि दिल्ली की जिम्मेदारी आपने (जनता) मुझे दी। इस बात का जवाब कि सांसद जी आएंगे, मंत्री जी आएंगे। अपने आप को भी यहां रखकर देखो कि सांसद कभी गांव में नहीं पहुंच सकता।

यूपी में ही एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘रोजाना मिलता हूं। किसी का फोन आया हो तो वापस फोन भी करता हूं। हर किसी का काम करना भगवान के लिए संभव नहीं। सबसे बड़ा वेबकूफ इस मामले में कोई अगर है तो हम और आप नहीं है, वो ऊपर वाला भगवान ही है। हम सब उसी के तो बनाए हुए हैं। भगवान के ही बच्चे हैं। उसी की जिम्मेदारी थी कि जब हमें धरती पर भेजा है। हमारे लिए घर देता। बच्चों की पढ़ाई के लिए पैसे देता। हमारे जेब खर्च का इंतजाम करता।

इन सब बातो को लेकर वह विवादों में काफी समय रहे। परन्तु इस बार भगवान् का दर्जा दिए जाने वाली महिलाओ को भी सम्मान नहीं दिया। भाजपा के लोग सम्मान का पाठ तो पढ़ाते है मगर वह खुद किसी का सम्मान नहीं करते। यह एक शर्म की बात है जहाँ केंद्रीय मंत्री और सम्मान जनक पद पर होने के बाद भी महेश शर्मा को महिलाओ का सम्मान करना नहीं आया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved