fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

साध्वी प्रज्ञा पर भड़के बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष, बयानों को लेकर कही यह बाते

BJP's-executive-president-angered-on-Sadhvi-Pradnya,-said-these-things-about-Sadhvi-Pragya's-statement
(image credits: Hindustan)

पिछले दिनों भोपाल से बीजेपी सांसद चुनी गयी साध्वी प्रज्ञा ने विवादित बयान देकर अपने और अपनी पार्टी के लिए बड़ी मुसीबत मोड़ ली थी। साध्वी प्रज्ञा ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा था की वह नालिया साफ़ करने के लिए सांसद नहीं बने ना ही लोगो के शौचालय साफ़ करने के लिए, जिस काम के लिए बने है वह ईमानदारी से करेंगे। इसी बयान के चलते साध्वी प्रज्ञा फिर से विपक्षियों के निशाने पर आ गयी।

Advertisement

ऐसे ही कई और विवादों में साध्वी प्रज्ञा फंस चुकी है। साध्वी के बयान बाजी के चलते अक्सर उनकी पार्टी को शर्मिंदगी झेलनी पड़ती है। इस बार बीजेपी के अध्यक्ष ने साध्वी प्रज्ञा के बयानों को लेकर उन्हें एक नसीहत दी है।

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए कैंडिडेट बनाए जाने के बाद से ही भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर बीजेपी के लिए मुश्किलों का सबब बनी हुई हैं। उनके बयान से लगभग हर दिन पार्टी के लिए असहज करने वाली स्थिति बन जाती है।

हाल ही में उन्होंने शौचालय की सफाई वाला बयान देकर फिर से बड़ा हंगामा खड़ा कर दिया है। एचटी के मुताबिक ऐसे में बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने उन्हें ऐसे बयान देने से बचने के लिए कहा है जो विवाद खड़ा कर सकते हैं।

दरअसल साध्वी प्रज्ञा ने हाल ही में कहा था, ‘शौचालय और नाले साफ करने के लिए सांसद नहीं बनी हूं। सांसद का काम अन्य प्रतिनिधियों के साथ मिलकर विकास कार्य सुनिश्चित करना है। जिस काम के लिए मुझे चुना गया है वह मैं ईमानदारी से करूंगी। मैंने पहले भी यही कहा है, अब भी यही कह रही हूं और आगे भी इसी पर अडिग रहूंगी।’ उनके इस बयान को असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ बताते हुए कहा कि यह उन्हीं के महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट स्वच्छ भारत अभियान के खिलाफ है। इस मुद्दे पर लगातार सियासी बयानबाजी का दौर जारी है।


साध्वी प्रज्ञा ने भोपाल सीट पर कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को हराया था। चुनाव के दौरान साध्वी ने नाथूराम गोडसे को कहा था। इसके अलावा उन्होंने शहीद हुए एटीएस चीफ हेमंत करकरे पर भी विवादित बयान दिया था। इन दोनों बयानों को लेकर उनकी जमकर आलोचना हुई थी और बाद में उन्होंने बयान वापस भी लिए।

इन सभी आलोचाना में आने के बाद भी साध्वी प्रज्ञा विवादित बयान देती रही है। इस बार भी उनके बयान ने पार्टी को एक नए मोड़ पर ला खड़ा कर दिया है। ऐसे में माना जा रहा है की साध्वी पार्टी के खिलाफ जा कर काम कर रही है। आने वाले समय में यह मुमकिन है की इसी तरह के बयानों से पार्टी में बड़ी हलचल मच सकती है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved