fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

बसपा सुप्रीमो मायावती ने मध्यप्रदेश और उत्तर प्रदेश सरकार को लगाई लताड़

BSP-Supremo-Mayawati-slapped-Madhya-Pradesh-and-Uttar-Pradesh-government
(Image Credits: NDTV)

बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने कमलनाथ की अगुवाई वाली मध्य प्रदेश सरकार और योगी आदित्यनाथ की उत्तर प्रदेश सरकार पर मुसलमानों को परेशान करने के लिए तीखा हमला किया। मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार को पटकनी देते हुए मायावती ने कहा कि पहले की भाजपा सरकार की तरह राज्य सरकार ने कथित गौहत्या के लिए मुसलमानों पर (National Security Act) राष्ट्रीय सुरक्षा कानून का तमाचा मारा गया है। उन्होंने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के 14 छात्रों के खिलाफ राजद्रोह का मुकदमा दायर करने के लिए यूपी सरकार को लताड़ लगाई।

Advertisement

ANI से बात करते हुए मायावती ने दोनों सरकार के कार्रवाइयों को सरकारी दमन का उदाहरण बताया और जनता से दोनों सरकारों के बीच के अंतर को तय करने का आग्रह किया है।

यह पहली बार नहीं है जब बहुजन समाज पार्टी के प्रमुख ने कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार पर हमला बोला है। बसपा ने इससे पहले भी राज्य सरकार पर मध्य प्रदेश की जनता के ऊपर “अत्याचार” करने का आरोप लगाया था।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान को सत्ता से बेदखल करने के बाद मध्य प्रदेश की जनता को राहत मिली है, लेकिन कहा कि वर्तमान कांग्रेस सरकार के तहत राज्य का उत्पीड़न अभी भी जारी है।

“नई सरकार का प्रारंभिक कामकाज लोगों को संतुष्ट नहीं कर रहा है। सरकारी उत्पीड़न अभी भी जारी है, ”यह बसपा सुप्रीमो ने कहा है।


दरअसल भगवा पार्टी को सत्ता से बाहर रखने के लिए मध्य प्रदेश में सरकार बनाने के लिए बसपा ने कांग्रेस का समर्थन किया था।

मध्य प्रदेश में कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद से, सरकार ने पांच लोगों पर गोहत्या और अवैध रूप से मवेशियों के परिवहन के लिए NSA लगा दिया था । CM कमलनाथ पर नरम-हिंदुत्व में लिप्त होने का आरोप लगाया गया है। और उन्होंने राज्य में कई गौ कल्याण योजनाओं की शुरुआत की है।

वहीं पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार, छात्रों पर राजद्रोह का मामला तब सामने आया जब मुस्लिम सांसद ओवैसी के दौरे की रिपोर्ट को लेकर टीवी चैनल के दल के साथ टकराव हुआ । जिसके बाद AMU के 14 छात्रों पर राजद्रोह के आरोप के तहत मामला दर्ज कर लिया गया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved