fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

भाजपा सांसद के बिगड़े बोल, विपक्ष की इस नेता को लेकर दिया शर्मनाक बयान

Embarrassed-statement-about-this-leader-of-the-opposition-by-BJP-MP
(IMAGE CREDITS: Hindustan Times)

लोकसभा चुनाव जीतने के बाद ऐसा लगता है जो बीजेपी नेताओं के बोल और ज्यादा बिगड़ते जा रहे है। अक्सर बीजेपी नेताओं द्वारा ही विपक्षी पार्टियों को लेकर कुछ भी बयानबाजी करने के मामले सुनने को मिलते है। बीजेपी नेता अक्सर बयानबाजी करते वक्त मर्यादाओं को लांघते नजर आते है। कभी पार्टी के छोटे नेताओ द्वारा ऐसा करने का मामला सामने आता है, तो कभी स्वयं प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी अपने बोल पर लगाम नहीं रख पाते है।

Advertisement

इसी प्रकार एक बार फिर बीजेपी सांसद द्वारा ऐसा करने का मामला सामने आया है। दरअसल बीजेपी सांसद अजय भट्ट ने प.बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी अध्यक्ष ममता बनर्जी को लेकर बयानबाजी की है। बता दे की सांसद अजय भट्ट ने ममता बनर्जी की तुलना सांड से कर दी है। सांसद ने यह बयान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा जय श्री राम की नारेबाजी पर भड़कने पर दिया। उन्होंने कहा है कि जिस तरह लाल कपड़ा देखकर सांड बिदकता है, ठीक वैसे ही दीदी जय श्री राम बोले जाने पर भड़क रही हैं।

सांसद अजय भट्ट ने ‘एएनआई’ से इस सम्बन्ध में कहा, “बंगाल में लोगों ने ममता दीदी को जय श्री राम के नारों से परेशान कर रखा है। मुझे नहीं मालूम कि आखिर जय श्री राम सुनते ही उन्हें क्या हो जाता है। जब भी कोई जय श्री राम का जाप करता है, तो वह भड़क उठती हैं। यह चीज ठीक उस सांड की याद दिलाती है, जो लाल कपड़ा देखकर बौखला जाता है।” सांसद के अनुसार, “सीएम को धैर्य रखना चाहिए। लोकतंत्र में हर किसी को अपनी बात और अपने नारे इस्तेमाल करने का हक है।”

सांसद ने आगे कहा, मुझे नहीं मालूम मुख़्यमंत्री ममता बनर्जी को जय श्री राम बोलने में क्या परेशानी है? मैंने उनका एक वीडियो देखा जिसमे वह जय श्री राम के नारे लगने के बाद ऐसे बर्ताव कर रही थीं, जैसे मधुमक्खियां अपने छत्ते को छेड़े जाने के बाद करती है। उन्होंने कहा, कई लोग ‘हेलो’ की जगह पर जय श्री राम कहकर बात की शुरुआत करते है। आखिर इसमें दिक्कत क्या है?

वहीँ इसके साथ साथ टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी के बयान ‘जय श्री राम की टीआरपी गिर गई है, और जय मां काली प्रचलित हो रहा है’ के बारे में पूछे जाने पर बीजेपी सांसद ने कहा, “वे चाहे कुछ भी कहें। ये दोनों ही चीजें हमारी पौराणिक कथाओं का हिस्सा हैं। सीएम को इसमें कोई तकलीफ नहीं होनी चाहिए।”


आपको बता दे की भारतीय जनता पार्टी के सांसद, सूबे की नैनीताल-उधमसिंह नगर के संसदीय सीट से चुने गए हैं। उन्होंने पूर्व सीएम और कांग्रेसी नेता हरीश रावत को हराया है।

अब हम आपको इस पूरे मामले के बारे में बताते है। दरअसल, उत्तर 24 परगना जिले के भाटापारा इलाके से हाल ही में वेस्ट बंगाल क़ी मुख़्यमंत्री का काफिला गुजर रहा था, तभी कुछ लोग जोर-जोर से जय श्री राम के नारे लगा रहे थे। उसी दौरान ममता बनर्जी ने अपना आपा खो दिया, और जय श्री राम का नारा लगा रहे लोगो को धमकाना शुरू कर दिया। उनका आरोप था कि वे सब बंगाल में बाहर से आए बीजेपी के लोग थे, जो कि अपराधी थे और उन्हें गालियां दे रहे थे। वह उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगी।

बीजेपी सांसद द्वारा किसी महिला को लेकर इस प्रकार की टिप्प्पणी करना निंदनीय है। उन्हें यह पता होना चाहिए की एक तरफ उनके पार्टी के सर्वोच्च नेता और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महिलाओं को लेकर न जाने कितनी बड़ी बड़ी बाते करते हैं। वहीं दूसरी ओर बीजेपी नेताओं द्वारा किसी महिला को लेकर ऐसी टिप्पणी करना उचित नहीं लगता है।

वैसे देखा जाये तो जब से भारतीय जनता पार्टी सरकार में आई है, तब से देश की राजनीति में बयानबाजी का स्तर गिरता ही जा रहा है। और ज्यादातर ऐसे बयानबाजी के पीछे भाजपा के नेता ही जिम्मेदार होते है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved