fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

क्या BJP के कहने पर बदला गया टीम इंडिया की जर्सी को भगवा रंग में ?

is-bjp-responsible-for-changing-team-India-jersey-in-saffron-color
(image credits: Latestly.com)

क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 अभी चल रहा है और भारतीय टीम शानदार प्रदर्शन कर रही है। अभी तक क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 में भारतीय टीम को कोई भी दूसरी टीम टक्कर नहीं दे पाई है। वही अब इस वर्ल्ड कप में टीम इण्डिया की जर्सी एक चर्चा का विषय बनी हुई है। भारतीय टीम शुरू से ही नीले रंग की जर्सी में खेलती आई है पर अब उनकी जर्सी में इंग्लैंड के साथ होने वाले मैच के लिए तबादला कर नीले रंग से भगवा रंग कर दी गई है। भगवा रंग की जर्सी को लेकर भी तरह तरह लोगो द्वारा सवाल उठाए जा रहे है पर इसके पीछे की सच्चाई क्या है यह हम आपको बताते है आखिर क्यों भारतीय टीम की जर्सी को भगवा रंग दिया गया है।

Advertisement

टीम इंडिया के किट स्‍पॉन्‍सर नाइकी ने शुक्रवार को भगवा रंग की जर्सी की तस्‍वीर जारी कर दी। भारतीय टीम यह जर्सी इंग्‍लैंड के खिलाफ रविवार को होने वाले मैच में पहनेगी। नाइकी की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘टीम इंडिया 30 जून 2019 को बर्मिंघम में पहली बार अपनी नई भगवा रंग की जर्सी पहनेगी।

इस साल वनडे और अवे किट की जो डिजाइन लॉन्‍च की गई हैं वह भारत की नौजवान पीढ़ी और राष्‍ट्रीय टीम की निडर भावना से से प्रेरित है.’ नई जर्सी सामने वाले हिस्‍से को छोड़कर पूरी तरह से भगवा रंग की है। बताया जा रहा है की भगवा रंग निडर भावना का प्रतिक है और भारतीय टीम अभी तक उसी निडर भाव के साथ खेलती आई है इसलिए अब उनकी जर्सी के रंग को बदल कर भगवा रंग में दिया गया है हालाँकि यह कुछ ही मैच के लिए किया गया है।

बता दें कि टीम इंडिया की नई जर्सी का रंग भगवा होने को लेकर काफी विवाद भी हुआ है। भारत में कई राजनीतिक दलों ने इस मामले में बीसीसीआई को घेरा है। उनका कहना था कि बीसीसीआई ने यह रंग केंद्र सरकार को खुश करने के लिए चुना है बीजेपी ने इन आरोपों को खारिज किया, भाजपा के राष्ट्रीय चिन्ह में भगवा रंग है और भाजपा को भगवा रंग से बेहद प्रेम है इसलिए लगतार विपक्षी पार्टियों के द्वारा यह आरोप लगाया जा रहा है की भाजपा के कहने पर ही टीम इंडिया की जर्सी का रंग भगवा किया गया है हालाँकि इस मामले में अभी तक कोई सबूत सामने नहीं आये है।

वहीं अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने इन आरोपों पर कहा कि कलर कॉम्बिनेशन उनकी तरफ से बीसीसीआई को भेजा गया था। भारतीय बोर्ड ने वहीं कॉम्बिनेशन चुना जो उन्‍हें ठीक लगा। आईसीसी की ओर से बुधवार को जारी बयान में कहा गया, ‘जर्सी बदलने का विचार इसलिए आया क्‍योंकि इंग्‍लैंड भी नीली जर्सी ही पहनता है। नया डिजाइन भारत की पुरानी टी20 जर्सी से लिया गया है जिसमें भगवा रंग है.’


नाइकी ने बयान में कहा कि नई किट खेल और खिलाड़ियों की आधुनिक जरूरतों और तेजतर्रार मूवमेंट को ध्‍यान में रखते हुए तैयार की गई है। इस किट पसीने वाली जगहों को ध्‍यान में रखकर तैयार की गई है जिससे मैदान में खिलाड़ी राहत महसूस करें। साथ ही टीम में ऐसे कई बदलाव किए गए हैं जो इसे काफी हल्‍का, आरामदेह और खिलाड़ियों को चुस्‍त रहने में मददगार बनाते हैं। बता दें कि जब से यह खबर सामने आई थी कि भारत वर्ल्‍ड कप में दो जर्सी पहनकर खेलेगी तब से ही अटकलों का बाजार तेज है। टीम की दूसरी जर्सी की कई तरह ही तस्‍वीरें सामने आईं।

आईसीसी ने एक नया नियम बनाया है. इसमें आईसीसी इवेंट में एक मैच में एक जैसे रंग वाली ड्रेस पहनकर दोनों टीमें नहीं उतर सकती। ऐसे में एक टीम की जर्सी का रंग बदला जाना चाहिए। हालाँकि दक्षिण अफ्रीका ने बांग्लादेश की हरी जर्सी को देखते हुए पीली जर्सी पहनी थी। जबकि ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज को जर्सी बदलने की जरूरत नहीं है क्योंकि उनकी जर्सियां किसी टीम से मेल नहीं खाती।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved