fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

“जय श्री राम” के नारे और भाजपा को लेकर ममता बनर्जी का बड़ा बयान

Mamta-Banerjee's-big-statement-about-slogan -Jai-Shri-Ram"-and-BJP
(Image credits: Moneycontrol)

भारतीय जनता पार्टी की पश्चिमी बंगाल में बड़ी सफलता के बाद भाजपा के हौसले और बुलंद हो गए है और इसके कारण ही वह पश्चिमी बंगाल में ऐसी हरकते करने की कोशिश करने में लगे है जिससे हिंसा बढे।

Advertisement

हाल ही में कुछ दिनों पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का वीडियो बड़ी तेज़ी के साथ वायरल हो रहा है, जिसमे वह जय श्री राम के नारा लगाने वाले भाजपा समर्थकों के खिलाफ नाराजगी जाहिर करती हैं, वीडियो में यह देखा गया की ममता बनर्जी के काफिले मे कुछ लोग जय श्री राम का नारा ज़ोर ज़ोर से लगाने लगे जिसके बाद ममता बनर्जी ने तुरत गाड़ी से उतर कर उनके खिलाफ करवाई करने की मांग की उन्होंने कहा की भाजपा के लोग इस नारे का इस्मेताल कर गुंडागर्दी कर रही है।

इस घटना के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की कई लोगो ने आलोचना करी वही भाजपा के बड़े नेताओ ने भी ममता बनर्जी को लेकर विवादित बयान दिए जिसके बाद ममता बनर्जी ने इस नारे को लेकर खुलकर अपनी बात सामने रखी है।

ममता बनर्जी ने फेसबुक पोस्ट के जरिए कहा है कि उन्हें जय श्री राम के नारे से किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन जिस तरह से पश्चिम बंगाल में लोगों के बीच तनाव बढ़ाने के लिए भाजपा इस नारे का इस्तेमाल कर रही है, उन्हें उससे दिक्कत है। भाजपा धर्म और राजनीति को आपस में मिला रही है। दरअसल ममता बनर्जी के जय श्री राम के नारे के विरोध के बाद भाजपा ने फैसला लिया है कि वह उन्हें 10 लाख जय श्री राम लिखे पोस्ट कार्ड भेजेगी, जिसके बाद ममता बनर्जी की ओर से इसे लेकर सफाई सामने आई है।

बता दें कि पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव में भाजपा ने 18 सीटों पर जीत दर्ज की है, जबकि पिछले चुनाव में उसके पास सिर्फ बंगाल में सिर्फ दो सीटें थी। इस चुनााव में टीएमसी ने सिर्फ 22 सीटों पर जीत दर्ज की है, वहीं 2014 की बात करें तो टीएमसी ने 34 सीटों पर जीत दर्ज की थी। अपनी फेसबुक पोस्ट में ममता बनर्जी ने लिखा है कि मुझे इस बात से कोई दिक्कत नहीं है कि राजनीतिक दल किसी नारे का इस्तेमाल कर रहे हैं। हर पार्टी का अपना नारा होता है। मेरी पार्टी का नारा जय हिंद, वंदे मातरम है, लेफ्ट का इंकलाब जिंदाबाद है, हम हर किसी के नारे का सम्मान करते हैं।


ममता बनर्जी ने काह कि वह भी भगवान राम का सम्मान करती हैं, लेकिन उन्हें भाजपा के तरीके से दिक्कत है, जिस तरह से भाजपा इस नारे का इस्तेमाल राजनीति के लिए कर रही है ,धर्म को राजनीति से मिला रही है वह सही नहीं है। यह जानबूझकर लोगों के बीच नफरत फैलाने के लिए किया जा रहा है, जिससे की हिंसा को भड़काया जा सके, हम सभी को मिलकर इसका विरोध करना चाहिए। आप कुछ लोगों को कुछ समय के लिए बेवकूफ बना सकते हैं, लेकिन हमेशा आप किसी को बेवकूफ नहीं बना सकते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बंगाल राम मोहन राय और इश्वरचंद्र विद्यासागर की धरती है, जहां समाज सेवी अभियान शुरू किए गए थे। लेकिन यहां पर नफरत फैलाने का काम किया जा रहा है। समय आ गया है कि हमे इसे रोकना चाहिए। जो लोग समाज में नफरत और तनाव बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं, लोगों को बांटने और हिंसा को बढ़ावा दे रहे हैं, उनका विरोध किया जाना चाहिए। इससे पहले ममता बनर्जी ने अपनी प्रोफाइल फोटो को भी बदल दिया था और उन्होंने कई स्वतंत्रता सेनानियों की तस्वीर को प्रोफाइल फोटो के तौर पर लगाया था, जिसपर लिखा था जय हिंद, जय बांग्ला।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved