fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

मायावती ने कहा बीजेपी कांग्रेस की तरह नकली अंबेडकरवादी बनने की कोशिश न करे

Mayawati-said-BJP-should-not-try-to-become-a-fake-Ambedkarite-like-Congress
(Image Credits: The Hans India)

बसपा सुप्रीमो मायावती ने एक बार फिर से मोदी सरकार पर जमकर हमला किया और ट्वीट करके बीजेपी को बातो-बातो में झूठो का सरदार कह दिया। बसपा सुप्रीमो मायावती ने मोदी की तुलना अमेरिकी राष्टपति डोनाल्ड ट्रम्प से कर दी।

Advertisement

मायावती ने पीएम मोदी और बीजेपी पर हमला करते हुए कहा, ‘अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के गलत बयानों को पकड़ने के लिए वाशिंगटन पोस्ट अखबार ने फैक्ट चेकर के जरिए खुलासा किया और बताया कि ट्रंप ने 800 दिन में 10 हजार से ज्यादा बार झूठ और भ्रम फैलाने वाले दावे किए। यूएस का मीडिया काफी चौकन्ना है लेकिन पीएम मोदी के बारे में आपकी क्या राय है?’

देखा जाए तो मोदी सरकार अपने झूठे वादों से लोगो को ठग रहे है। परन्तु इस चुनावी माहौल में यह साफ़ जाहिर होता है की जनता भी अब मोदी सरकार के खिलाफ जाने की सोच रही है। विवादित बयान और धमकियाँ देने वाले भाजपा के नेता आज कल सुर्ख़ियों में बने हुए है। यहाँ तक की प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी भी विवादों में फंसे रहे परन्तु उन पर कोई कार्यवाही नहीं हुई। यहाँ तक की चुनाव आयोग भी उन पर कोई कड़ा रुख जाहिर नहीं कर रही।

इससे पहले मायावती ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा था, ‘बीएसपी महिलाओं का सम्मान करती है जो जग-जाहिर है लेकिन दुख की बात ये है कि अब चुनाव के समय में भी बीजेपी सत्ता का दुरुपयोग करके बीएसपी को बदनाम करने पर तुली हुई है। घोसी में पार्टी प्रत्याशी के साथ भी ऐसा ही किया जा रहा है जो बीजेपी का बहुत घिनौना चुनावी हथकंडा है।’

हाल ही में मायावती ने कांग्रेस को नकली अंबेडकरवादी बताया था और कहा था , ‘बीएसपी वैसे तो बाबा साहेब की प्रेरणा से सर्वसमाज के हित के लिए काम करती है लेकिन सदियों से उपेक्षित दलित और ओबीसी वर्ग में जन्मे महान संतों, गुरुओं और महापुरुषों के आदर-सम्मान में जो काम किए हैं वे ऐतिहासिक हैं। बीजेपी कांग्रेस की तरह नकली अंबेडकरवादी बनने की कोशिश न करे। साथ उन्होंने यह भी कहा था, ‘बीएसपी राजनीतिक पार्टी के पहले सामाजिक परिवर्तन और आर्थिक मुक्ति का मूवमेन्ट है। बीएसपी का जन्म भी बाबा साहेब के जन्मदिन पर उनके अधूरे कारवां को मंजिल तक पहुंचाने के लिए किया गया है जिसे जातिवादी मानसिकता के तहत कांग्रेस एण्ड कंपनी के लोगों ने लगभग 30 सालों तक भटकाए रखा था.’


मायावती ने ट्वीट कर कहा था, ‘परमपूज्य बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर बीजेपी और कांग्रेस के लिए वोट की राजनीति और स्वार्थ हो सकते हैं लेकिन बीएसपी के लिए वह आत्मा के समान हैं। वे दिल-दिमाग में रचे-बसे हैं। बीएसपी वैसे भी बीजेपी की तरह राम नाम जपना, जनता को ठगना जैसी राजनीति नहीं करती है, यह पूरा देश जानता है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved