fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

उत्तर प्रदेश की राजनीति का इंजन बनना चाहती है मायावती: अमर सिंह

mayawati-wants-to-become-an-engine-of-politics-in-uttar-pradesh

उत्तर प्रदेश भदोही जिले में राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने सोमवार 17 दिसम्बर को एक बड़ा बयान दिया है। अमर सिंह ने कहा क़ी अगर उत्तर प्रदेश में मुलायम सिंह की चलती तो वह हारना पसंद करते, लेकिन लोकसभा-2019 में बसपा-कांग्रेस से महागठबंधन कभी नहीं करना पसंद करते।

Advertisement

पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के परिणामो को देखते हुए अमर सिंह ने कहा की पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में बसपा ने जिस तरह से दलित मतदाताओं का वोट काटा है, उससे यह साबित होता है कि वह यूपी की राजनीति का इंजन बनना चाहेंगी, जबकि सपा और कांग्रेस को उस इंजन का डिब्बा बनकर संतोष करना पड़ेगा।

भदोही में हुए कार्यक्रम ‘मोदी अगेन पीएम’ में पत्रकारों से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा की उत्तर प्रदेश में बसपा प्रमुख मायावती ज्यादा से ज्यादा सीटों को अपने पास रखना पसंद करेगी। उन्होंने कहा कि तीन राज्यों में सरकार बनने के बाद कांग्रेस यूपी में महागठबंधन के तहत कम से कम बीस सीटों की मांग करेंगी, जबकि मायावती इतनी सीट सपा को भी नहीं देंगी। मायावती कांग्रेस को सिर्फ अमेठी और रायबरेली, जबकि सपा को बीस से अधिक सीट देने पर राजी नही होंगी।

ऐसे स्थिति में कांग्रेस और सपा के पास कोई विकल्प नहीं रहेगा उन्होंने बसपा सुप्रीमो के शरण में ही जाना पड़ेगा। अमर सिंह यह यह भी कहा की वह मुलायम सिंह यादव को अच्छी तरह से जानते है यदि उनकी पार्टी में चलती तो हार जाना पसंद करते पर किसी अन्य पार्टी के साथ गठबंधन करने के लिए राजी नहीं होते। और ना ही अपने कार्यकर्ताओ को निराश करते। गठबंधन करने से कार्यकर्ताओ का मनोबल कमजोर पड़ता है और पार्टी टूटने का खतरा रहता है।


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved