fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

भगवान श्रीकृष्ण का स्वरूप और भगवान विष्णु का अवतार है मोदी: बीजेपी नेता ज्ञानदेव आहूजा

Modi-is-the-embodiment-of-Lord-Shri-Krishna-and-Lord-Vishnu:-BJP-leader-Gyanadev-Ahuja
(Image Credits: Al Jazeera)

नरेंद्र मोदी के जीतने के बाद पार्टी के सभी नेताओं द्वारा मोदी के तारीफ की जा रही है। कुछ नेता तो तारीफ करते हुए इतना आगे बढ़ गए की वह यह भी भूल गए की वो क्या बोल रहे है। हम बात करने जा रहे है बीजेपी नेता प्रदेश उपाध्यक्ष ज्ञानदेव आहूजा की। दरअसल बीजेपी नेता अहूजा ने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ करते वक्त उन्हें श्रीकृष्ण का स्वरूप और भगवान विष्णु का अवतार बता दिया।

Advertisement

आहूजा ने कहा, मोदी जी जो एक दिव्य शक्ति हैं जो भगवान श्रीकृष्ण के स्वरूप और भगवान विष्णु के अवतार हैं। उनके प्रति मेरी श्रद्धा है, पीएम मोदी ने जो देशभक्ति जगाई, पाकिस्तान में घुस कर एयर स्ट्राइक किया। इससे ही देशभक्ति की भावना प्रबल हुई और यह चुनाव उसी का प्रतीक और कार्यकर्ताओं की मेहनत का परिणाम है। राजस्थान में बीजेपी की जीत पर आहूजा ने कहा की, उन्होंने पहले ही राजस्थान की सभी 25 सीटें जीतने की बात कही थी।

इससे पहले भी कही लोग प्रधानमंत्री मोदी को भगवान का अवतार बता चुके हैं। और ऐसे लोग तर्क देते हुए कहते है की, प्राचीन समय में राजा को ईश्वर का भेजा हुआ दूत या ईश्वर का अवतार माना जाता था। राजा महाराजाओं के राजशाही भरे युग तो अब बीत गए है। परन्तु आज के लोकतान्त्रिक युग में भी जनता के कल्याण में दिनरात जुटे प्रधानमंत्री रूपी राजा को भगवान का साकार रूप या अवतार माननेवालों की कमी नहीं है, बल्कि उनकी संख्या बहुतायत में है। जनता द्वारा लोकतान्त्रिक व्यवस्था में देश के प्रधानमंत्री को राजा या भगवान मानना अजीब सा लगता है। बल्कि लोकतंत्र में तो प्रधानमंत्री को जनता के सेवक की तरह देखना चाहिए।

बीजेपी नेता ज्ञानदेव आहूजा की तरह की कुछ और लोग है जो प्रधानमंत्री मोदी को भगवान की तरह देखते है। कुछ महीनो की पहले की बात है जब रामजेठमलानी ने मोदी को विष्णु का अवतार बता दिया था। उन्होंने यह बयान एक साक्षात्कार के दौरान दिया। राम जेठमलानी ने नरेंद्र मोदी के बारे में कहा था, “मोदी विष्णु के अवतार हैं. भ्रष्टाचार और विदेश नीति पर मोदी का कामकाज बेहतरीन है। वह ईमानदार हैं और खूब मेहनत करते हैं.”

कुछ इसी तरह भारतीय सांस्कृतिक संबंध परिषद (आईसीसीआर) के चेयरमैन लोकेश चंद्र ने गतवर्ष में नरेंद्र मोदी के बारे में कहा था, “नरेंद्र मोदी भगवान के अवतार हैं। वह महात्मा गांधी से भी बड़े हैं। गरीबों पर उनका असर कार्ल मार्क्स से भी ज्यादा है.” आपको बात दें की पद्म भूषण से सम्‍मानित लोकेश चंद्र पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के विश्वासपात्र और उनके बेहद करीबी रहे तथा वो कई वर्षों तक सोवियत यूनियन के नेताओं से भी जुड़े रहे। (आईसीसीआर) के चेयरमैन लोकेश चंद्र द्वारा प्रधानमंत्री मोदी को राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी से भी बढ़कर बताना बिलकुल भी शोभनीय नहीं है।


बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष ज्ञानदेव आहूजा ने सिर्फ प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ ही नहीं की बल्कि उन्होंने मालेगाव घटना की आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर की भी तारीफ़ की है। उन्होंने साध्वी प्रज्ञा की तर्ज पर कहा, उन्होंने भी अयोध्या में विवादित ढांचा तोडा था जिसके लिए उन्हें उनपर गर्व है।

बीजेपी नेताओं द्वारा इस प्रकार के लोगो की तारीफ करना उनकी मानसिकता को दर्शाता है। बीजेपी नेता आहूजा द्वारा नरेंद्र मोदी को भगवान बताने से देश की उस जनता की भावना को नुकसान पहुंच सकता है जो किसी भी प्रकार के भगवान में विश्वास रकते हैं। जोकि उनके श्रद्धा के भी खिलाफ होगा।

बीजेपी नेताओ द्वारा इस प्रकार तारीफ करना कभी कभी हास्यपद भी लगता है। आहूजा द्वारा साध्वी प्रज्ञा जैसे आतंकी मामले में आरोपी की तारीफ करने से हम यह अंदाजा लगा सकते हैं की, बीजेपी के नेता किस प्रकार की विचारधारा से ताल्लुक रखते हैं। और इसके साथ हमें यह भी पता होना चाहिए की किस प्रकार इन्ही विचारधाराओं से संबंधित होने वाले सभी घटनाओ को कैसे इन लोगो द्वारा समर्थन किया जाता है।

खैर बीजेपी नेता प्रधानमंत्री मोदी के बारे में कुछ भी कहे, लेकिन देश की जनता उनके बारे भली भातिं जानती है। प्रधानमंत्री ने पिछले पांच साल के कार्यकाल को जुमलेबाजी में ही निकाल दिया। अब आने वाले पांच सालो में देश के लोगो को और क्या क्या देखना पड़ सकता है, इसका जवाब तो हमारे प्रधानमंत्री से बेहतर कोई और नहीं दे पाएगा।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved