fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

भाजपा के स्टार प्रचारक ने ही छोड़ा भाजपा का साथ, पार्टी की बढ़ेगी मुसीबते

ramkrishna kusmaria

मध्यप्रदेश में चुनाव के नामांकन वापसी का समय अब खत्म हो चूका है। अब यह साफ़ हो चूका है की मध्यप्रदेश में इस बार भाजपा के लिए कुछ मुश्किलें बढ़ती नज़र आने लगी है। इस बार भाजपा चौथी बार सत्ता में वापसी की कोशिश में लगी है। वही अब भाजपा को बागियों का डर सताने लगा है हाल ही में भाजपा से कई बड़े नेताओ ने अपने कन्नी काट ली है।

Advertisement

भाजपा के लिए इस बार बागी सबसे बड़ी समस्या है। भाजपा की तरफ से सबसे बड़ी बगावत दमोह में पूर्व मंत्री और चार बार के सांसद रामकृष्ण कुसमारिया ने भाजपा की एक बड़ा झटका दे दिया है। सांसद रामकृष्ण कुसमारिया ने दमोह और पथरिया सीट दो जगह से चुनावी मैदान में उतरकर भाजपा के समाने मुसीबत खड़ी कर दी है।

दमोह में रामकृष्ण कुसमारिया शिवराज सरकार में वित्तमंत्री जयंत मलैया के खिलाफ चुनाव मैदान में उतरेंगे जिससे पार्टी में घमासान सा मच गया है आपको बता की रामकृष्ण कुसमारिया भाजपा के लिए बोहोत महत्वपूर्ण थे उन्हें पार्टी ने अपने स्टार प्रचार तक बताया था साथ ही वह प्रदेश चुनाव समिति के सदस्य भी थे। अब ऐसे मौके पर उनका साथ छूटना पार्टी के लिए एक बड़ा झटका है।

कुसमारिया को मनाने के लिए पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने काफी मानने की कोशिश की, लेकिन कुसमारिया ने प्रभात झा को बैरंग लौटा दिया। कुसमारिया ने अब मन बना लिया है की वह अब भाजपा का साथ नहीं देंगे। रामकृष्ण कुसमारिया कुर्मी समाज से सम्बन्ध रखते है और उनके भाजपा से अलग हो जाने पर कुर्मी समाज के वोट बैंक के टूटने का भी खतरा हो गया है।

कुसमारिया के चुनाव लड़ने पर पार्टी के प्रदेश प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे ने कहा कि अभी भी उम्मीद है कि कुसमारिया मान जाएंगे। पार्टी के उपाध्यक्ष प्रभात झा लगातार हर तरह से रामकृष्ण कुसमारिया को मानाने में अपने कोई कसर नहीं छोड़ना चाह रहे है।


Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved