fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

उत्तर प्रदेश: फेक कॉल पर विधायक मुख्तार अंसारी हुए गिरफ्तार

(News Credits: Zee news)
विधायक मुख्तार अंसारी की हाल ही में हुई पंजाब ‘जेल यात्रा’ ने यूपी सरकार को परेशानी में डाल दिया है। मामला यह है की पंजाब पुलिस द्वारा माफ़िया मुख्तार का नाम इस्तेमाल करके रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस ने आनन-फानन में production warrent पर मुख्तार को हिरासत में ले लिया है। 
 
माफ़िया मुख्तार अंसारी के हरियाणा और पंजाब के अंडवर्ल्ड कनेक्शन के बारे में उत्तर प्रदेश के अफसर अच्छी तरह जानते हैं। वे इस बात से सशंकित हैं कि मुख़्तार का एकाएक पंजाब जेल जाना किसी बड़ी साजिश का हिस्सा तो नहीं। 
 
बता दे की ज्यादातर ऐसे मामलो में गिरफ्तारी से पहले पुलिस यह पुष्टि करती है की जिसके नाम से फोन आया है, फोन करने वाले व्यक्ति की आवाज उससे मिलती है या नहीं। 
 
परेशानी तो यह है की ऐसे हालात में पहले से जेल में बंद मुख्तार को लोकसभा चुनाव से पहले मोहाली पुलिस द्वारा पंजाब ले जाना यूपी के अफसरों को हजम नहीं हो रहा है। 
 
अब हम आपको इस पुरे मामले के बारे में बताते हैं।
 
दरअसल मोहाली में एक बड़े बिल्डर को फोन आता है और फोन करने वाला व्यक्ति खुद को मुख्तार अंसारी बताते हुए 10 करोड़ रुपये की मांग करता है। जिसके कारण पंजाब पुलिस ने 24 जनवरी को मुख़्तार को यूपी से ले जाकर कोर्ट में पेश किया था। जहाँ से उसे 14 दिन की न्ययिक हिरासत में रोपड़ जेल भेज दिया गया। 
 
नवभारत टाइम्स के मुताबिक, जेल प्रशासन और यूपी एसटीएफ के अफसरों पर सरकार ने दबाव डाला है कि मुख्तार को वापस बांदा जेल लाया जाए। इसके लिए विधि विशेषज्ञों से राय लेने के साथ यूपी में चल रहे मामलों में उसकी तारीखें भी पता की जा रही हैं। 
 
हालांकि मुश्किल यह है कि अब यूपी में मुख्तार के खिलाफ गंभीर अपराध के मामले न के बराबर हैं।
बता दे की मुख्तार के खिलाफ सबसे बड़ा मुकदमा बीजेपी विधायक कृष्णानंद राय की हत्या का है, जो की दिल्ली की सीबीआई कोर्ट में चल रहा है।  
 
पंजाब पुलिस जिन फोन कॉल्स के आधार पर मुख्तार अंसारी को production warrent  पर अपने साथ ले तो गई है, सूत्रों के मुताबकि शुरुआती जाँच में यह सामने आया है, कि वह आवाज मुख्तार की नहीं है। हालांकि, पंजाब पुलिस ने मुख्तार के voice sample लिए दी तो हैं, लेकिन उनकी अभी रिपोर्ट नहीं आई है। 
 
वहीं इस मामले में मोहाली के एसपी कुलदीप सिंह चहल ने बताया कि मुख्तार 14 दिन की न्यायिक हिरासत में है। अब वह जेल में रहेंगें या वापस यूपी भेजे जायेंगे, यह तो कोर्ट पर निर्भर करता है।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved