fbpx
ट्रेंडिंग  
ट्रेंडिंग  
राजनीति

मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए हार्दिक पटेल ने भी ट्विटर पर चलाया “मैं भी बेरोज़गार कैंपेन”

While-targeting-the-Modi-government,-Hardik-Patel-also-launched-"I-am-also-unemployed"-campaign-on-Twitter,
(Image Credits: DNA India)

आजकल सोशल मीडिया पर राजनैतिक पार्टिया के बीच खूब जोरो शोरो के साथ एक लड़ाई सी चल रहा है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर अपना नाम बदल दिया. उन्होंने ‘मैं भी चौकीदार हूं’ कैंपेन के तहत शनिवार को अपने ट्विटर हैंडल का नाम बदलते हुए चौकीदार नरेंद्र मोदी कर लिया था। यह नाम पीएम मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए ‘मैं भी चौकीदार’ कैंपेन की शुरुआत की थी।

Advertisement

इसके बाद केंद्र के मंत्रियों और बीजेपी नेताओं के अलावा समर्थकों ने भी इस कैंपेन को रफ्तार दी थी। पीएम मोदी के देखा देखी कई बड़े भाजपा नेताओ ने भी ट्विटर पर अपने नाम के आगे चौकीदार लगा लिया है।

वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा ने ‘चाय पर चर्चा’ मुहिम चलाई थी. राजनीतिक गलियारों में ‘मैं भी चौकीदार’ मुहिम को लोकसभा चुनाव के मद्देनजर महत्वपूर्ण माना जा रहा है. वही इस कैंपेन पर कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल ने इसका जवाब देते हुए अपने नाम के आगे ‘बेरोजगार’ लगा लिया है। हार्दिक अपने इस नए नाम के जरिए बेरोजगारी के मुद्दे पर सरकार को घेरने की कोशिश में हैं।

ट्विटर यूजर्स के बीच हार्दिक पटेल की इस मुहिम को लेकर काफी चर्चा हो रही है। पीएम मोदी के ट्विटर कैंपेन ‘मैं भी चौकीदार ‘ कैंपेन की शुरुआत के बाद ‘मैं भी बेरोज़गार ‘ कैंपेन की शुरुवात हो गई है।

बीते दिनों कांग्रेस ज्वाइन करने वाले हार्दिक पटेल ने सोमवार को मोदी सरकार को घेरते हुए एक बड़े मुद्दे को अपने नाम के आगे जोड़ दिया है। ट्विटर हैंडल पर हार्दिक ने अपने नाम के आगे ‘बेरोजगार’ शब्द जोड़ दिया है। जिसके बाद हार्दिक के समर्थकों ने भी अपने नाम के आगे ‘बेरोजगार’ शब्द जोड़ते हुए ‘मैं भी बेरोजगार’ हैसटैग के साथ रोजगारी की मांग की है। साथ ही कहा कि जो भी युवा बेरोजगार हैं वह नाम के आगे बेरोजगार शब्द जोड़ें ताकि पता चले कि आखिरकार देश में कुल कितने युवा बेरोजगार हैं।


हार्दिक पटेल ने कहा की भाजपा सरकार द्वारा 2 करोड़ लोगों को रोजगार देने का वादा किया गया था। लेकिन चुनावों के नजदीक आते ही ‘चौकीदार’ के नाम से जनता को मुद्दों से भटकाने की कोशिश की जा रही है। उसके विरोध में मैंने ‘बेरोजगार’ नाम का अभियान छेड़ा है। इसका मुख्य उद्देश्य सरकार को दो करोड़ रोजगार के वादे की याद दिलाना और रोजगारी के लिए भटक रहे युवाओं के मुद्दे को सामने रखना है।

वही कांग्रेस मैं भी चौकीदार वाले कैंपेन पर निशाना साधते हुए छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में युवाओं को लुभाने के लिए ‘मैं भी बेरोजगार” नाम से अभियान शुरू किया है. इस अभियान के तहत पार्टी बेरोजगारों से नौकरी के लिए आवेदन भरवाने के साथ जरूरतमंद संस्थानों को आवेदन भेज कर बेरोजगारों को रोजगार दिलाने की कवायद करेगी.कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल के मुताबिक राज्य में 25 लाख पंजीकृत और 25 लाख गैरपंजीकृत बेरोजगार हैं. उन्होंने दावा किया कि विधानसभा चुनाव में बेरोजगारी राज्य की बीजेपी सरकार के खिलाफ सबसे बड़ा मुद्दा होगा.

बता दें कि राहुल गांधी ने कथित राफेल डील में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए लगातार ‘चौकीदार चोर है’ का नारा दे रहे हैं, जिसके जवाब में प्रधानमंत्री और बीजेपी नेताओं ने ‘मैं भी चौकीदार’ कैंपेन लॉन्च किया था। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, रेल मंत्री पीयूष गोयल समेत, जेपी नड्डा समेत कई नेताओं ने ट्विटर पर अपने नाम के आगे चौकीदार शब्द जोड़ा है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top

© copyright reserved National Dastak. All right reserved